आज का दैनिक राशिफल इन हिंदी 2022(Aaj ka Dainik Rashifal): सभी 12 राश‍ियों के लिए कैसा रहेगा आज का द‍िन, मेष, वृषभ, मिथुन, कर्क, सिंह, कन्या, तुला, वृश्चिक, धनु, मकर, कुम्भ, मीन का राशियों की दैनिक राशिफल पूरी जानकारी आपको यहां मिलेगी नवभारत गोल्ड पर -आचार्य कृष्णदत्त शर्मा

मेष- राशि का स्वामी मंगल द्वितीय भाव में चल रहा है। चंद्रमा मेष राशि का प्रथम भाव में आपके अंदर भोग विलास के भावना को बढ़ाएगा। आप धार्मिक एवं सामाजिक कार्यों में सहयोग करेंगे। यदि आप व्यापार कर रहे हैं तो आपके व्यापार में आज कुछ नए परिवर्तन होंगे, जिससे आगे चलकर आपको लाभ होगा। सायंकाल से लेकर रात्रि तक आप अपने स्वास्थ्य के प्रति सचेत रहें।

वृषभ- आज आपकी राशि से द्वादश भाव में चंद्रमा आपके जीवन विघ्न बाधाएं उत्पन्न करेगा। सांसारिक सुख-भोग और नौकर चाकरों से असहयोग से परेशानी रहेगी। परिवार की तरफ से भी वांछित समाचार मिलने के संकेत नहीं हैं। सायंकाल 5 बजे के बाद चंद्रमा के मेष राशि में प्रवेश करने के उपरांत कुछ धैर्य बंधेगा, पड़ोसी सहयोग करेंगे।

मिथुन - आज आप में अपने कार्य के प्रति लगन रहेगी एवं रुके हुए कार्य पूर्ण होंगे। आप नए-नए कार्यों में विनियोग करेंगे। आपके परिवार में मनमुटाव की स्थिति रहेगी। सायंकाल के समय वाहन खराब होने से अकस्मात खर्चा बढ़ेगा। आप इस समय धैर्य से काम लें क्योंकि जल्दबाजी में किए गए कार्य से आप परेशान हो सकते हैं।

कर्क-आज आप अधिकांश क्रियाकलापों में लिप्त रहेंगे। इस समय में अध्यात्म से तत्व ज्ञान में वृद्धि होगी। सायंकाल से देर रात तक आपके भौतिक सुख-सुविधाओं में वृद्धि होगी। आपका विवेक नए-नए कार्यों की खोज करने में लगेगा। आप दूसरों की कमियां ढूंढना छोड़ देंगे तो आज आपकी शान में चार चांद लग सकता है।

सिंह- आज मेष का चंद्रमा आपको बहुमूल्य वस्तु से लाभ प्राप्त कराएगा। अपनी शानो शौकत के लिए धन का व्यय करेंगे। गरीबों की सहायता और अपनी वाक्पटुता, कार्य कुशलता से दूसरे व्यक्तियों को अपनी ओर आकृष्ट करने में सक्षम रहेंगे। सायंकाल से लेकर देर रात्रि तक आपकी रुचि धर्म, अध्यात्म में लगेगी।

कन्या- आज राशि से सप्तम भाव में चंद्रमा राज्य विजय कारक है। आज के दिन आपके प्रभाव प्रताप में वृद्वि होगी। सायंकाल से लेकर देर रात्रि तक ऐसे अनावश्यक खर्चे सामने आएंगे जो कि चाहते हुए भी मजबूरी में करने पड़ेंगे। दिन आपका मिलाजुला रहेगा।

तुला- अधिक परिश्रम करने के कारण स्वास्थ्य कुछ नरम रहेगा। राज्य और समाज की ओर से वांछित सहयोग मिलेगा, परिवार की तरफ से भी शुभ समाचार मिलने के संकेत हैं। यदि आप नौकरी करते हैं तो आपके अधिकारों में वृद्धि होगी। आज आपका उत्तरदायित्व बढ़ेगा। सब लोग आपके साहस और पराक्रम की प्रशंसा करेंगे। दिन आपका उत्तम रहने वाला है।

वृश्चिक- आज का दिन मिश्रित फलकारक है। सप्तम भाव में मंगल होने के कारण आपको पेट एवं वायु से संबंधित कष्ट होने की संभावना रहेगी। ऐसे अनावश्यक खर्चे सामने आएंगे जो आपकी खिन्नता को बढ़ा देंगे। सायंकाल के समय कोई खुशखबरी मिलने से आपका उत्साह बढ़ेगा। रात्रि के समय किसी मांगलिक समारोह में सम्मिलित होने का अवसर प्राप्त होगा।

धनु- राशि से पंचम भाव में चंद्रमा धर्म, अध्यात्म में वृद्धि करेगा। दिन का कुछ समय सामाजिक क्रियाकलापों में भी लगेगा। आपके भौतिक सुख-सुविधाओं में कुछ कमी आ सकती है। यदि आप अपने मन की बात को शीघ्र दूसरों से उजागर न करें तो रुके हुए धन की प्राप्ति हो सकती है। चतुर्थ भाव में बृहस्पति आपके स्वास्थ्य में गड़बड़ कर सकता है। अतः खानपान में विशेष नियंत्रण करके स्वास्थ्य के प्रति सजग रहें।

मकर- आज राशि से द्वितीय-तृतीय एवं कर्म स्थान में केतु, चंद्र, मंगल, शुक्र योग आपके निर्णय लेने की क्षमता से आपको लाभ कराएगा। यदि आपका कोई विवाद राज्य में या समाज में लंबित हो तो उन्हें सफलता मिलने की पूर्ण संभावना रहेगी। धन का लाभ होगा। सायंकाल से लेकर देर रात्रि तक का समय ईश्वर भक्ति, तप, यज्ञ और पुण्य कार्यों में लगेगा।

कुंभ- आज का दिन आपके लिए भविष्य की नवीन संभावनाओं को लेकर आ रहा है। आपकी रुचि अध्यात्म में रहेगी। आपके अच्छे कर्मों से आपके खानदान का नाम ऊंचा होगा। बुजुर्गों के आशीर्वाद से कार्य में सफलता मिलेगी। सायंकाल का समय गाने-बजाने, संगीत और सैर-सपाटे में बीतेगा।

मीन- आज राशि से द्वितीय अष्टम शत्रु चिंता की निवृत्ति कारक है। मानसिक अशांति खिन्नता एवं उदासीनता के कारण आप भटक सकते हैं। आपकी संतान और पत्नी के प्रति प्रेम भावना बढ़ेगी। यदि आपकी प्रोन्नति होने वाली है, तो अवश्य प्राप्त होगी। आपको आकस्मिक चिंता होने की संभावना है, जिससे आप अपनी वाक्पटुता से शीघ्र ही दूर कर लेंगे। दूसरे व्यक्तियों और आगंतुकों को अपनी ओर आकर्षित करने में सायंकाल तक आप कामयाब हो जाएंगे। रात्रि में अकस्मात अतिथियों के आगमन से असुविधा होगी।

(जन्मदिन की शुभकामनाएं)
यह वर्ष आपको स्वर्ण पाद से प्रवेश कर रहा है। वर्ष के स्वामी मंगल बुध दो ग्रह बने हैं। मंगल भूमि का स्वामी, युद्धप्रिय, साहसी, अग्रणी, सुव्यवस्थापक ग्रह है, जिसको बुध का सानिध्य बौद्धिक गुणों वाला, कुशल व्यापारी भी बना देता है। सितंबर महीने के शेष दिनों से लेकर अक्टूबर महीने के अंत तक घरेलू सुख साधन, वाहन, मकान प्राप्ति के प्रबल योग हैं। नवंबर माह की बात करें तो अकारण शत्रु उत्पत्ति होकर उनका मान-मर्दन भी हो जाएगा। इस वर्ष दिसंबर से लेकर जनवरी 2023 तक किसी मांगलिक कार्य का अनुष्ठान अथवा प्रतिष्ठा वर्धक कार्य भी आपके परिवार में होंगे। फरवरी के महीने में रोग ऋण से मुक्ति मिलेगी, जिससे आप सुकून में रहेंगे। मार्च महीने की बात करें तो निकट संबधी आपके इर्द-गिर्द घूमेंगे। अप्रैल के महीने में व्यर्थ की भागदौड़ हो सकती है। मई माह से लेकर जून माह के अंत तक आर्थिक पक्ष सुदृढ़ होगा। जुलाई के महीने में में स्थायी व अस्थायी व्यापार का विस्तार एवं धार्मिक स्थानों पर पर्यटन का योग है। अगस्त महीने की बात करें तो विशेष अच्छे परिणामों के लिए रविवार को स्नान करते समय बाथरूम की नाली में 50 ग्राम शक्कर डाल दें। -आचार्य कृष्ण दत्त शर्मा

आलेख रेट करें

आज ही न्यूजलेटर और नोटिफिकेशंस को सब्सक्राइब करें

हिन्दी हैं हम! भारत की दुनिया, दुनिया में भारत

Copyright @2022 BCCL. All Rights Reserved